अगरबत्ती बनाने का बिज़नस कैसे शुरु करें | Agarbatti Business In Hindi

Agarbatti Ka Business Kaise Start Kare: जैसा कि हम जानते है कि हमारा समाज सर्वधर्म सम्पन्न है. अर्थात हमारे देश सभी धर्म के लोग रहते है तथा सभी लोग अपनें धर्म से संबधित पूजा-पाठ करते है.

क्या आपने कभी देखा है कि इनकी पूजा की सामग्री में अगरबत्ती सामान्य होती है. अगरबत्ती का इस्तेमाल प्रत्येक पूजा पद्धति में विशेष रुप से हिंदू देवी-देवताओं की पूजा में किया जाता है.

अगरबत्ती घर के वातावरण को पवित्र बनाती है तथा घर में सुंगध बिखेरती है. इसके अलावा अगरबत्ती को शुभ माना जाता है.

आप सोच रहे है कि हम आज अगरबत्ती की बात क्यो कर रहे है? क्योंकि मैं जानता हूं कि आप कम लागत में शुरु होने वाले बिज़नस की तलाश कर रहे है.

अगरबत्ती बनाने का बिज़नस कैसे शुरु करें Agarbatti Business In Hindi

अगरबत्ती बनाने का बिज़नस एक ऐसा बिज़नस है, जो पूरे साल चलता है क्योंकि अगरबत्ती की मांग पूरे साल पूजा के लिए रहती है और सीजन के दौरान जैसे दीपावली या नवरात्रा में अगरबत्ती की मांग कई गुना अधिक हो जाती है.

इसकी मांग सिर्फ भारत में ही नही अपितु श्रीलंका, बर्मा जैसे अन्य देशो में भी रहती है.

अगर आप कम लागत में शुरु करनें वाले बिज़नस की तलाश कर रहे है तो आप अगरबत्ती बनानें का व्यवसाय शुरु कर सकते है. चुंकि इसे बनाना काफी आसान है तथा इसमें लागत भी कम लगती है.

हालांकि में जानता हूं कि आपके मन में अगरबत्ती से संबधित कई सवाल आ रहे होंगे. जैसे “अगरबत्ती का व्यवसाय कैसे शुरु करे?, “अगरबत्ती बनानें का व्यवसाय का स्कोप कितना है” तथा “अगरबत्ती कैसे बनती है?”.

लेकिन आप निश्चिंत रहे आज हम इस लेख में अगरबत्ती के व्यवसाय से सबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे.

अगरबत्ती बनाने का बिज़नस (Agrabatti Business Ideas In Hindi)

अनुक्रम दिखाएँ

अगरबत्ती बनाने का बिज़नस काफी आसान तथा कम लागत में शुरु किया जा सकता है. चुंकि इसकी डिमांड कभी कम नही होती है, इसलिए आप इस Small Business Ideas से सफल उद्योगपत्ति बन सकते है.

वैसे मैं आपको बता दूं कि अगरबत्ती का व्यवसाय लघु उद्योग श्रेणी के अंतर्गत आता है तथा स्मोल स्केल इंडस्ट्री या एसएसआई की कैटेगिरी का सबसे अच्छा बिज़नस है.

इसके द्वारा 20 लाख लोगो को रोजगार को प्राप्त हुआ है तथा वही वर्ष 2018-19 में 1000 करोङ रुपये की अगरबत्तियो का निर्यात देश-विदेश में किया गया था.

अगरबत्ती की मांग कितनी है (अगरबत्ती के बिज़नस का स्कोप)

अगर आप अगरबत्ती का बिज़नस शुरु करते है तो आपको इसके भविष्य की चिंता करनें की जरुरत नही है क्योंकि अगरबत्ती ऐसी सामग्री है, जिसे सभी धार्मिक अनुष्ठानों में इस्तेमाल किया जाता है.

मुझे नही लगता है कि हमारे देश में जिसे धार्मिक देश कहा जाता है, में यह समाप्त हो जाए. इसके अलावा इसका इस्तेमाल वातावरण को खुशबुदार बनानें में भी किया जाता है.

कम से कम भारत में आपका अगरबत्ती बनानें का व्यापार कभी खत्म नही होगा. निश्चय ही यदि आप मेहनत करते है तो आप इस बिज़नस में सफलता प्राप्त कर लेंगे.

भारत की घरेलु अगरबत्तियो की मांग उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, तथा कर्नाटक जैसे कई राज्यो में बहुत अधिक है.

अगरबत्ती के मुख्य: प्रकार

अगर आप अगरबत्ती का बिज़नस शुरु करते है तो इसके लिए आपको यह जानना होगा कि अगरबत्ती सिर्फ एक तरह की नही अपितु कई प्रकार की होती है. जिनका निर्माण अगरबत्ती के बिज़नस में किया जा सकता है.

अगरबत्ती मुख्यत: चार प्रकार की होती है.

  • साधारण अगरबत्ती
  • मसाला अगरबत्ती
  • खुशबुदार अगरबत्ती
  • मॉस्क्वीटो अगरबत्ती

अगरबत्ती बनाने का बिज़नस संबधित विशेष बातें

  • अगरबत्ती का बिज़नस शुरु करनें से पहले उसमें आनें वाली समस्याओ के बारें में विचार कर ले तथा उनका समाधान तैयार रखे.
  • अगर आप Agarbatti manufacturing business शुरु करना चाहते है तो इसके जरुरी है कि आप यह सुनिश्चित करें कि आपके पास पूंजी कितनी है तथा इस बिज़नस को शुरु करनें के लिए कितनी पूंजी की आवश्यकता होगी.
  • अगरबत्ती का बिज़नस शुरु करनें से पहले यह भी सुनिश्चित कर ले कि आप अपनी अगरबत्ती कहां बेंचेगें.
  • अगरबत्ती का बिज़नस शुरु करनें से पहले इसके लिए उपयुक्त जगह का चयन कर लेवें. जहां पर आप अपना बिज़नस आसानी से शुरु कर सकते है. जहां पर आपका माल सुरक्षित रहे तथा आसानी से बिक जाए.

अगरबत्ती का व्यवसाय शुरू करने का स्तर

अगर आप वास्तव में Agarbatti Manufacturing Business शुरु करना चाहते है तो आपके लिए यह जानना जरुरी है कि यह बिज़नस आप दो तरह से शुरु कर सकते है.अगरबत्ती बनानें का बिज़नस का स्तर आपके काम के आकार पर निर्भर करता है.

अगरबत्ती बिज़नस छोटे स्तर परअगरबत्ती बिज़नस बङे स्तर पर
इसे आप घर पर भी शुरु कर सकते है.बङे स्तर पर अगरबत्ती बिज़नस को शुरु करने के लिए 1500 स्क्वायर फीट जमीन की आवश्यकता होती है.
इसमें कम निवेश की आवश्यकता होती है.इसमें अधिक निवेश की आवश्यकता होती है.
इसमें मशीन, रजिस्ट्रेशन तथा कर्मचारियो की अधिक आवश्यकता नही होती है तथा केवल कच्चे माल के लिए पैसे खर्च करनें पङते है.बिज़नस को शुरु करने के लिए कई कर्मचारियो तथा मशीनो की आवश्यकता होती है. इसके अलावा इस बिज़नस के लिए कई प्रकार के लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन की भी आवश्यकता होती है.
यदि आप छोटे स्तर पर काम शुरु करते है तो इसके लिए आपको किसी प्रकार के लाइसेंस की आवश्यकता नही होती है.यदि आप अगरबत्ती बनानें के व्यवसाय को बङे स्तर पर शुरु करना चाहते है तो आपको अपनें बिज़नस का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा.
छोटे स्तर पर बिज़नस को शुरु करने के लिए 12 से 20 हजार रुपये की ही आवश्यकता होती है.इस बिज़नस को शुरु करने के लिए कम से कम 5 से 6 लाख रुपये की आवश्यकता होगी.
अगरबत्ती का व्यवसाय शुरू करने का स्तर

अगरबत्ती का व्यवसाय कैसे शुरु करें (Start Agarbatti Business)

अगर आप अगरबत्ती बनाने के बिज़नस में एक सफल Businessmen बनाना चाहते है तो इसके लिए जरूरी है कि आप एक उचित योजना बनाए.

अगर आप एक सही योजना के साथ बिज़नस शुरु करते है तो आप अपने बिज़नस को काफी ऊंचाई तक ले जा सकते है.

अपने Business Plan में निम्नलिखित बिंदुओ को जरुर शामिल करे-

#1 सही योजना बनाएं (Best Plan for Incense Sticks Business)

सफल बिज़नस की स्थापना करने से पहले Business Planning की आवश्यकता होती है. इसलिए इस बिज़नस को शुरु करने के लिए भी एक Perfect plan की आवश्यकता होती है.

आपका Best Business Plan आपको किसी भी संस्था /बैंक से लोन दिलानें में मदद करता है. आपके Business Plan में निम्न बातो का शामिल होना चाहिए.

  • व्यवसाय की प्रकृति
  • व्यवसाय का कुल बजट
  • खरीदे जाने वाले उपकरणो की जानकारी
  • कच्चे माल की जानकारी
  • कर्मचारियो की जानकारी
  • मार्केटिंग के बारें
  • बिज़नस की विज्ञापन रणनिति
  • लोन जानकारी
  • कमर्शियल क्रेडिट रिपॉर्ट
  • संपत्ति/ परिसर/ क्षैत्र की जानकारी आदि

#2 अगरबत्ती बनाने का बिज़नस लिए निवेश (Investment for Agarbatti Business)

इस व्यवसाय में लगने वाला निवेश आपके Business के आकार पर निर्भर करता है. अगर आप बङे लेवल पर व्यापार शुरु करते है तो इसके लिए कम से कम 5 से 6 लाख रुपये की आवश्यकता होती है.

यदि आप इसे छोटे लेवल पर शुरु करते है तो इसके लिए आपको 12 से 20 हजार रुपये की आवश्यकता होगी.

#3 अगरबत्ती व्यापार के लिए जगह का चुनाव (Place for Trading Incense Sticks)

Incense Sticks business शुरु करने के लिए एक सही जगह का चुनाव किया जाना चाहिए. वैसे देखा जाए तो बिज़नस के लिए जमीन की आवश्यकता आपके बजट पर निर्भर करती है.

अगर आपका बजट कम है तो आप बिज़नस को घर में शुरु कर सकते है लेकिन इसके लिए आपके पास कम से कम इतनी जगह होनी चाहिए कि आपका सामान वहां सुरक्षित रहे.

अगर आपका बजट अधिक है तथा बङे लेवल पर बिज़नस को शुरु करना चाहते है तो इसके लिए 1500 स्क्वायर फिट की जमीन की आवश्यकता होती है. बिज़नस के लिए जगह का चुनाव करते समय निम्न बातो का ध्यान रखे-

  • आपका सामान सुरक्षित रहना चाहिए.
  • बिजली की उपयुक्त व्यवस्था होनी चाहिए.
  • आपके उत्पादो का आवागमन आसानी से हो.
  • जहां पर कच्चा माल पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हो.
  • चयनित स्थान में कम से कम तीन कमरे होने चाहिए. जिसके एक कमरे में अगरबत्ती मशीन सेट करने की, दुसरे कमरे में अगरबत्ती मेटेरियल रखने की तथा तीसरे कमरे में अगरबत्ती पाउडर मिक्सचेर मशीन को रखने की व्यवस्था हो.

#4 अगरबत्ती व्यवसाय शुरु करने के लिए मशीनों की व्यवस्था (Incense Sticks Business Machine)

अगरबत्ती के व्यवसाय को छोटे स्तर पर शुरु करते है तो आप अगरबत्ती का निर्माण हाथ से कर सकते है. इसके किसी प्रकार की मशीन की आवश्यकता नही होती है.

लेकिन अगर व्यवसाय बङे स्तर पर किया जाता है तो इसके लिए मशीनो की आवश्यकता होती है.

अगरबत्ती का बिज़नस शुरु करने के लिए मैन्युअल मशीन,सेमी ऑटोमेटिक मशीन, हाई स्पीडऑटोमेटिक मशीन की आवश्यकता होती है.

इसके अलावा अगरबत्ती ड्रायर मशीन, अगरबत्ती पाउडर मिक्सर मशीन तथा अगरबत्ती मैन्युफेक्चरिंग पैकेजिंग मशीन की भी आवश्यकता होती है.

अगरबत्ती के बिज़नस में काम आने वाली मशीनो की लिस्ट

अगरबत्ती व्यवसाय के लिए मशीनमशीन का वर्णन
 मैनुअल मशीन    मैनुअल अगरबत्ती मशीन से अगरबत्ती बनाना बहुत ही आसान है. मैनुअल मशीन स्वचलित नही होती है. मैनुअल मशीन पैडल टाइप मशीन होती है. यानि इसे पैडल द्वारा चलाया जाता है. इस मशीन को चलाना काफी आसान होता है. इसे कोई भी व्यक्ति चला सकता है. इसे चलाने के लिए बिजली की आवश्यकता नही होती है. इसे पैडल मारकर चलाया जाता है. यह मशीन सस्ती तथा टिकाऊ होती है. इस मशीन का वजन 100 kg होता है. इस मशीन द्वारा मात्र 8 घंटो में 15 से 20 kg अगरबत्ती बनायी जा सकती है. मैनुअल अगरबत्ती मशीन की कीमत 13 हजार से 15 हजार होती है.  
  ऑटोमेटिक मशीन    Automatic machineका इस्तेमाल बङे आकार के बिज़नस में किया जाता है. यह मशीन स्वचलित होती है तथा शुरु करने के लिए बिजली की आवश्यकता होती है. Automatic machine की उत्पादन क्षमता मैनुअल मशीन से अधिक होती है. इस मशीन के इस्तेमाल से मात्र एक मिनट में 200 अगरबत्ती बनायी जा सकती है. यह मशीन 8 घंटे में 80 से 100 kg अगरबत्ती का निर्माण कर लेती है. इस मशीन में अगरबत्ती बनाने के लिए सीधी, गोल तथा चोकोर सभी प्रकार की स्टिक्स का उपयोग कर सकते है. इस मशीन का वजन 120 kg तक होता है. ऑटोमेटिक मशीन की कीमत 85 हजार रुपये के आस-पास होती है.  
  High Speed Machine  इस मशीन का इस्तेमाल करने के लिए कम कर्मचारियो की आवश्यकता होती है. यह मशीन पूर्णत: स्वचालित होती है तथा यह कम मजदूर खर्च में अधिक उत्पादन करता है. High Speed Machine एक मिनट में 300 अगरबत्ती का निर्माण करता है. यह मशीन 8 घंटे में 150 किलो अगरबत्ती का निर्माण करती है. इस मशीन की मदद से 8 से 12 इंच लंबी अगरबत्ती बनायी जा सकती है. इस मशीन की कीमत 1 लाख 25 हजार से 1 लाख 30 हजार तक होती है.  
  अगरबत्ती पाउडर मिक्सर मशीन    अगरबत्ती पाउडर मिक्सर मशीनका इस्तेमाल अगरबत्ती का मसाला बनानें में किया जाता है. अगरबत्ती को बनानें के लिए इस मशीन में चार तरह के अगरबत्ती के पाउडर (कच्चा माल) को मिलाया जाता है. इसमें पाउडर के रुप में charcoal powder, Wood Powder, jigat Powder, Chemical Powder का इस्तेमाल किया जाता है. मशीन में इन सबको डालकर तथा पानी मिलाकर मशीन को चालू कर दिया जाता है. जिसके बाद यह मशीन सबको मिक्स कर देती है तथा कुछ देर में मसाला तैयार हो जाता है. इस मशीन की उत्पादन क्षमता एक बार में 15 से 20 किलो अगरबत्ती का मसाला बनानें की होती है. इस मशीन की कीमत 28 से 30 हजार रुपये के बीच होती है.  
  अगरबत्ती ड्रायर मशीन  अगरबत्ती ड्रायर मशीन का इस्तेमाल गीली अगरबत्ती को सुखानें में किया जाता है. अगरबत्ती को मशीन से निकालनें के बाद तुरंत सुखाना बेहद जरुरी होता है. वरना अगरबत्ती खराब हो जाती है. यह मशीन सिर्फ 8 घंटो में ही 120 किलो से 140 किलो अगरबत्ती सूखानें की क्षमता रखती है. इस मशीन की कीमत 25 हजार से 30 हजार रुपये होती है.  
अगरबत्ती के बिज़नस में काम आने वाली मशीनो की लिस्ट

#5 अगरबत्ती बिज़नस के लिए कच्चा माल की व्यवस्था (Raw Material for Agarbatti Business)

किसी भी बिज़नस में उत्पाद बनानें के लिए कच्चे माल की आवश्यकता होती है. इस तरह अगरबत्ती के बिज़नस में भी अगरबत्ती के निर्माण के लिएRaw materialकी आवश्यकता होती है.

अगरबत्ती के निर्माण के लिए आवश्यक कच्चे माल लिस्ट तथा मुल्य की सूचि

अगरबत्ती के लिए कच्चे माल का नामकच्चे माल की मात्राकीमत
चारकोल डस्ट1kg13 rupees
चन्दन पाउडर1 kg35 rupees
जिगात पाउडर1 kg60 rupees
परफ्यूम1 Peace400 rupees
पेपर बॉक्स1  दर्जन  75 rupees
सफ़ेद चिप्स पाउडर1 kg22 rupees
बांस स्टिक1 kg116 rupees
रैपिंग पेपर1  Packet35 rupees
कुप्पम डस्ट1 kg85 rupees
डीइपी1liter135 rupees
अगरबत्ती के निर्माण के लिए आवश्यक कच्चे माल लिस्ट तथा मुल्य की सूचि

अगरबत्ती के निर्माण के लिए कच्चा माल कहां से खरीदे?

वैसे तो अब अगरबत्ती निर्माण का बिज़नस हर जगह किया जाता है. इसके लिए आवश्यक कच्चा माल भारत में ही आसानी से मिल जाता है.

इसके लिए आवश्यक कच्चे माल को आप अपने थोक बाजार से भी खरीद सकते है. इसके अलावा आप कच्चे माल को कृष्णा ग्रुप, मक पंचाल इंडस्ट्रीज, दुर्गा इंजीनियरिंग,शांति इंटरप्राइजेज द्वारा खरीद सकते है.

ये कुछ अगरबत्ती के बिज़नस के लिए जरुरी कच्चे माल को बेंचती है. इनमें से कुछ कर्नाटक की कंपनी है तो कुछ अहमदाबाद की है.

इसके अलावा आप कच्चे माल को ऑनलाइन भी मंगवा सकते है. आप कच्चे माल को Indiamart, TradeIndia, Panthi Machinery से भी खरीद सकते है.

#6 अगरबत्ती कैसे बनती है जानें (Method of Making Incense Sticks)

अगरबत्ती का निर्माण करना बेहद आसान है लेकिन ध्यान रहे अगरबत्ती को मशीन से निकालनें के बाद तुंरत सुखाया जाना चाहिए. वरना आपकी अगरबत्ती खराब होने का डर रहता है.

आम तौर पर अगरबत्ती के निर्माण की दो विधियो को अपनाया जाता है. पहला मसाला अगरबत्ती तथा दुसरा सुंगधित अगरबत्ती.

अगरबत्ती बनानें की सही विधि हिंदी में

  • सबसे पहले अगरबत्ती को बनाने के लिए बासी फूलों, चारको, लकङी का पाउडर, जिगात का पाउडर मिलाकर दो किलो का मिश्रण तैयार करे.
  • अब इस मिश्रण में डेढ़ लीटर पानी मिला कर, उसे आटे की तरह अच्छे से गूंथ ले.
  • अब इस मिश्रण को बांस की स्टीक्स पर चिपकाकर रोल करे.
  • अगरबत्तियो को सुंगधित बनानें के लिए इन्हे सुंगध वाले तेल में डुबाया जाता है.
  • इसके बाद इन्हे सुखनें के लिए रख दिया जाता है. सुखने के लिए अगरबत्ती ड्रायर मशीन का इस्तेमाल किया जाता है.

Bonus Points

  • सुंगधित अगरबत्ती के निर्माण के लिए इन्हे एक विशेष सुंगधित तेल में डुबोया जाता है.
  • जिसे बनाने के लिए डाईथ्य्ल फ्थालाटे(डीइपी) को परफ्यूम के साथ 4:1 अनुपात में मिलाकर तैयार किया जाता है.

अगरबत्ती का निर्माण करते समय ध्यान रखने योग्य बातें

  • अगरबत्ती को धूप में न सुखाए. इन्हे अगरबत्ती ड्रायर मशीन के माध्यम से या फिर छाया में सुखाया जाना चाहिए.
  • इन्हे सुखाने के समय अलग करके रखे. जिससे ये आपस में चिपके नही.
  • अगरबत्ती की लंबाई अधिकतम 8 से 12 इंच होनी चाहिए.
  • अगरबत्ती के मिश्रण पर बांस की स्टिक्स को पूरा न लगाए. बांस स्टिक्स को कम से कम 1 इंच खाली रखे.
  • बांस की स्टिक्स पर पेस्ट को इस तरह लगाया जाना चाहिए कि अगरबत्ती को जलानें पर पूरी तरह से जल जाए.

#7 अगरबत्ती की पैकेजिंग करे

किसी प्रोडक्ट को अधिक बिकवाने में पैकेजिंग का महत्वपूर्ण भाग होता है. आपकी अगरबत्ती की पैकिंग जितनी अच्छी होती है, आपकी अगरबत्ती उतनी ही अधिक बिकती है.

अगरबत्ती की पैकिंग हाथ से या मशीनो से दोनो से की जा सकती है. बाजार में कई सारी मशीने उपलब्ध है, जिनकी मदद से आप अगरबत्ती की पैकिंग कर सकते है.

यदि आप अगरबत्ती का बिज़नस घर पर शुरुकरते है तो आप अगरबत्ती की पैकेजिंग हाथो से कर सकते है. जिसमें आपको अगरबत्ती को एक प्लास्टिक पाउच में 10-10 अगरबत्ती डालकर, उस पर अपनी कंपनी या ब्रांड का लोगो लगा दे.

यदि आप अगरबत्ती का बिज़नस बङे स्तर पर करते है तो आप मशीनों के जरिए पैकेजिंग करे. ये मशीन स्वंय ही अगरबत्ती को गिनकर उन्हे प्लास्टिक पाउच में डालकर,उनकीपैकेजिंग कर देती है.

अगरबत्ती की पैकेजिंग में निम्न गुण होने चाहिए-

  • पैकिंग मजबूत होनी चाहिए.
  • पैकिंग का कवर आकर्षक होना चाहिए.
  • पैकिंग पर आपके ब्रांड का नाम या कंपनी का नाम प्रदर्शित होना चाहिए.

#8 अगरबत्ती के बिज़नस की मार्केटिंग करें (Marketing of Agarbatti Business)

अगर आप Agarbatti का business में अच्छा लाभ लेना चाहते है तो आपको अपनी अगरबत्ती की मार्केटिंग करनी होगी. आपको यह सोचना होगा कि आप अपनी अगरबत्ती कहां बेचेंगे तथा कैसे बेचेंगे.

  • अपनें प्रोडक्टस को बेंचने के लिए आप किसी किराणे की दुकान, मॉल आदि से बात कर सकते है.
  • इसके अलावा आप अगरबत्ती की मार्केटिंग के लिए लोगो को काम पर लगा सकते है, जो आपके काम का प्रचार करे.
  • अधिक से अधिक अगरबत्ती बिकवाने के लिए अपने ग्राहको को ऑफर्स दे.
  • इसके अलावा आप अपनी अगरबत्ती के ब्रांड का प्रचार टीवी पर भी कर सकते है.
  • अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करने के लिए आप सोशल मिडिया की भी मदद ले सकते है.

#9 अगरबत्ती व्यापार के लिए लाइसेंस बनाए (License for Agarbatti Business)

अगर आप अगरबत्ती बनानें का बिज़नस बङे स्तर पर करते है तो आपको अपने बिज़नस का रजिस्ट्रेशन करवाना होता है. इसके लिए एक से दो हजार रुपये खर्च हो जाते है.

  • अपनी कंपनी के नाम से पैन कार्ड बना ले.
  • कंपनी के नाम पर बैंक में करंट अकाउंट भी बना ले.
  • लाइसेंस प्राप्त करनें के लिए स्थानीय प्राधिकारी से आवेदन करे.
  • अब अपनी कंपनी का एसएसआई यूनिट के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करवाए.
  • अब अपनी कंपनी का वैट रजिस्ट्रेशन करानें के लिए आवेदन करे.
  • इसके साथ ही ब्रांड का नाम सुरक्षित करनें के लिए बिज़नस के चिन्ह का पंजीकरण करा ले.
  • अब आप प्रदुषण नियंत्रण के लिए बॉर्ड द्वारा एनओसी प्राप्त करे. इसके साथ ही फैक्ट्री का लाइसेंस भी प्राप्त करे.

#10 अगरबत्ती बिज़नस के लिए कर्मचारियो की व्यवस्था करे

अगरबत्ती का बिज़नस शुरु करने के लिए आपको कुछ लोगो की आवश्यकता भी होती है, जो अगरबत्ती बनाने का काम कर सके या मशीनो को चला सके.

अगरबत्ती के व्यापार में कम से कम 2 से 3 लोगो की आवश्यकता होगी. यदि आपके घर में इतने लोग है तो ठीक है अन्यथा आपको कर्मचारियो को हायर करना होगा.

अगरबत्ती बिज़नस में मुनाफा कितना होता है (Benefits of Agarbatti Business)

यह एक ऐसा बिज़नस है, जिसमें आप कम लागत में अच्छा मुनाफा (Benefit) कमा सकते है. अगरबत्ती के बिज़नस में होने वाला फायदा उसमें लगनें वाली लागत से अधिक होता है.

हालांकि इसमें होने वाला मुनाफा आपकी अगरबत्ती बनानें की क्षमता पर निर्भर करता है. आप जितनी अधिक अगरबत्ती का निर्माण करेगें. आपकी कमाई भी उतनी ही अधिक होती है.

अगर आप प्रतिदिन 100 किलो अगरबत्ती निकालते है तो आप इससे आसानी से 1000 से 1500 रुपये का मुनाफा प्राप्त कर सकते है. अगर आपकी मशीन की क्षमता इससे अधिक है तो आपकी कमाई भी अधिक होगी.

अगरबत्ती बनाने का बिज़नस शुरु करने के लिए सरकारी मदद

अगरबत्ती बनानें का व्यवसाय एक प्रकार का लघु उद्योग है. भारत सरकार ऐसे लघु उद्योगो को बढ़ावा देने के लिए उनकी मदद करती है.

अगर कोई व्यक्ति अगरबत्ती बनानें का बिज़नस शुरु करना चाहता है लेकिन उसके पास पर्याप्त पैसे नही है तो ऐसे लोगो को सरकार बैंको से लोन प्रदान करवानें की सुविधा देती है.

इसके लिए आपको कुछ शर्तो को पूरा करना होता है. जो निम्न है-

  • सबसे पहले आपको ROCके अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करवाना होगा.
  • अगरबत्ती के बिज़नस के लिए लोकल सरकार द्वारा लाइसेंस प्राप्त करे.
  • इसके पश्चात आपको लोन लेने के लिए बैंक में आवेदन करना होगा.
  • यदि आपके पास आपके बिज़नस से जुङी सभी जानकारी है तो आपको लोन मिल जाएगा.

FAQs (अगरबत्ती बनाने का बिज़नस कैसे शुरु करें)

अगरबत्ती की तीलियो की लंबाई कितनी रखनी चाहिए?

अगरबत्ती की तीलियो की लंबाई 8 से 12 इंच होनी चाहिए.

अगरबत्ती का व्यापार कौन-कौन शुरु कर सकता है?

कोई भी जिसे व्यक्ति को अगरबत्ती बनानें से संबधित पूर्ण जानकारी है, वह अगरबत्ती बनाने के बिज़नस को शुरु कर सकता है.

अगरबत्ती बनाने के लिए कच्चा माल को कहां से खरीदना चाहिए?

आप चाहे तो अगरबत्ती बनानें के कच्चे माल को ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनो जगहो से खरीद सकते है.

अगरबत्ती की मार्केटिंग कैसे करे?

उत्तर: अगरबत्ती की मार्केटिंग निम्न तरीके से कर सकते है- आपकी अगरबत्ती का प्रचार करने के लिए लोगो को हायर करे, अपनें ग्राहको को ऑफर्स दे, अपने अगरबत्ती के स्थानीय विक्रेताओ से संपर्क करे, सोशल मिडिया की मदद ले.

अगरबत्ती का सामान बनानें में क्या-क्या सामान लगता है?

अगरबत्ती बनानें के लिए कच्चे सामान के रुप में लकङी, सफेद चंदन, चारकोल, गुगल तथा राल का इस्तेमाल किया जाता है.

अगरबत्ती की मशीन की कीमत कितनी है?

अगरबत्ती बनानें की मशीन की कीमत 35,000 से 1.75 लाख रुपये तक हो सकती है.

अगरबत्ती बनानें का बिज़नस शुरु करने के लिए आवश्यक रजिस्ट्रेशन तथा लाइसेंस कौन से है?

दुनिया के सभी देशो को अपने बिज़नस के बारें में बताने के लिए आपको कुछ रजिस्ट्रेशन तथा लाइसेंस की आवश्यकता होती है. जो निम्न है- जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त करना, लघु उद्योग या कंपनी के तहत बिज़नस का लाईसेंस प्राप्त करना, प्रदुषण लाईसेंस प्राप्त करना, SSI रजिस्ट्रेशन प्राप्त करना, EPF रजिस्ट्रेशन कराना, आकार बड़ा होने पर फैक्ट्री लाईसेंस प्राप्त करना, ट्रेड लाइसेंस प्राप्त करना, ESI रजिस्ट्रेशन कराना इत्यादि.

इन्हें भी पढ़े

निष्कर्ष: अगरबत्ती बिज़नस कैसे शुरु करें हिंदी में

इस लेख में “अगरबत्ती बनानें का बिज़नस कैसे शुरु करें” से संबधित सभी महत्वपूर्ण जानकारीयो को साझा किया है.

मैं उम्मीद करता हूं कि इस लेख के अंदर अगरबत्ती के व्यापार से संबधित सभी सवालो के जवाब प्राप्त हो चुके होंगे.

फिर भी अगर आपके मन में कोई सवाल है तो उसमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरुर बताए.

नमस्कार! दोस्तों मेरा नाम Ranjeet Singh है. प्रोफेशनल ब्लॉगर के साथ में एक Youtuber भी हूँ. मुझे डिजिटल मार्केटिंग और कंटेंट राइटिंग में गहरी नॉलेज है. इस पैसा.ब्लॉग पर पैसा कमाने के तरीके और बिज़नस आइडिया से सम्बंधित लेख साझा करता हूँ.

Leave a Comment