आटा चक्की का बिजनेस कैसे शुरू करें (Flour Mill Business in Hindi)

Aata Chakki Ka Business Kaise Karen: क्या आपको पता है कि आटा चक्की का बिजनेस एक शानदार बिज़नेस आइडिया हो सकता है? इस लेख में, मैं आपको आटा चक्की का बिजनेस कैसे शुरू करें,के बारे में बताऊंगा. आप यह तो जानते ही होंगे कि दुनिया में खाने की जरूरत हर जीव को होती है, और इंसानों की बात करें तो आटा हमारा मुख्य खाना है.

आप एक चक्की प्लांट का बिज़नेस शुरू कर सकते है यह एक Best Business ideas है जिसमें केवल गेंहू आटे के साथ-साथ मल्टीग्रेन आटा भी बना सकते है. मल्टीग्रेन आटा जिसमें गेंहू, बाजरा, मक्का, रागी, दाल और चना इत्यादि अनाजों को सही अनुपात में पीसकर आटा बना जाता हैं.

भारत देश में आटा चक्की का बिज़नेस पारंपरिक बिज़नेस है. हमारे पुराने समय में लोग घर पर पनचक्की एवं पत्थर से बनी चक्की को हाथ से घुमाकर पीसते थे. लेकिन अब तो काफी एडवांस प्रकार की मशीने आ चुकी हैं जिनसे आप जबरदस्त बिजनेस कर सकते हैं.

तो चलिए अब हम यह जानेंगे कि आटा चक्की का बिजनेस कैसे शुरू करें (How To Start Flour Mill Business In Hindi).

आटा चक्की का बिजनेस कैसे शुरू करें (Flour Mill Business in Hindi)

आटा चक्की का व्यवसाय क्या है (Flour Mill Business in Hindi)

अनुक्रम दिखाएँ

भारत देश एक कृषि संपन्न देश है जहां सबसे ज्यादा अनाज को खाया जाता है. ग्रामीण और मध्यम शहरी इलाकों में बड़ी-बड़ी आटा की चक्कीयें लगायी जाती है, और काफी जबरदस्त बिजनेस किया जाता है. हालांकि शहरों में आटा की चक्कीयां नही होती है बल्कि वे पीसे हुए पैकिंग आटे का इस्तेमाल करते है.

इसके अलावा शहरी लोग मसाले, मैदा, बेसन, सूजी इत्यादि मार्केट से पैकिंग पीसे हुए ही लाते हैं. लेकिन आटा बिजनेस बड़े शहरी इलाकों में भी बहुत लाभदायक है क्योंकि ऐसे शहरो आप बड़े चक्की प्लांट लगा सकते है. और फिर अपने ब्रांड का आटा पैक करके मार्केट में बेच सकते हैं.

भारत में आटा चक्की का बिजनेस बहुत ही जबरदस्त आइडिया है. और इस बिज़नेस को शुरू करना आपके लिए भी  काफी लाभकारी हो सकता है. आप इस बिजनेस में गेंहू आटे के साथ-साथ बाजरा, ज्वार, मडुवा, चना और मसाले जैसे हल्दी, मिर्च, धनिया इत्यादि भी पीसकर बिजनेस बढ़ा सकते है. इसके अलावा आप मल्टीग्रेन आटा भी तैयार करके मा्र्केट में बेच सकते हैं.

बाजार में Flour MillBusiness की डिमांग/स्कॉप (Demand)

हमारे देश में सबसे ज्यादा आटा ही खाया जाता है क्योंकि आटे की रोटी बनती है जिसे हम लगभग हर सब्जी के साथ आते हैं. अधिकतर घरो में आटे की रोटी हर दिन सुबह-शाम बनती हैं. कहने का मतलब है कि भारत में आटे का बहुतायत उपयोग किया जाता है.

भारत में आटे का उपयोग केवल घरों में ही नहीं बल्कि रेस्टोरेंट, ढाबा, ढेला, होटल इत्यादि जगहों पर भी आटे की रोटी ही बनायी जाती है. इसके अलावा आटे का उपयोग केवल रोटी बनाने के लिए नही किया जाता है बल्कि इसका उपयोग आलू का पराठा, ठेपला, घी रोटी इत्यादि चीजे बनाने के लिए किया जाता हैं.

इससे साफ पता चलता है कि भारत देश में Flour Mill Business आइडिया काफी जबरदस्त है. अगर आप भी जानना चाहते है कि आटा चक्की कैसे शुरू करें, तो आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े.

आटा चक्की का बिजनेस क्यों करें (Why do Flour Mill Business)

भारत देश में ज्यादातर लोग बिज़नेस इसीलिए नही करते है क्योंकि वे बिजनेस के फेल होने से डरते हैं. लेकिन अगर बिजनेस को अपने ग्राहकों की जरूरतो को ध्यान में रखते हुए किया जाए तो आपका बिज़नेस जरूर सफल होगा.

अब अगर बात आटा चक्की बिजनेस की करें तो इस बिजनेस को आज के समय में शुरू करना काफी फायदेमंद है. आप आटा चक्की प्लांट लगा सकते है जिसमें ज्यादा मात्रा में आटा बनाकर उसे पैक कर सकते है और पैकिंग आटे को आप अपने कंपनी के नाम के ब्रांड के साथ बेच सकते है.

आपको पता है कि भारत में आमतौर पर Durum Wheat का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें ग्लूटेन नामक प्रोटीन होता है जो आटे में लचीलापन ला देता है. यह आटा भारत में एक आंकड़े के मुताबिक 90% तक इस्तेमाल किया जाता है.

आज आटे का उपयोग लोग प्रोटीन के लिए करते है. और इसका उपयोग बैकरी के प्रोडक्ट बनाने में भी किया जाता है, जैसे ब्रेड, बिस्कुट, केक इत्यादि. इसके अलावा इसका उपयोग पिज्जा बेस, डोनट्स, नूडल्स, पकोड़े, बर्गर के लिए बन्स, दलिया आदि के लिए भी किया जाता है.

आपको यह बिज़नेस करना चाहिए क्योंकि आटे जैसा प्रोडक्ट बेचने के लिए आपके पास बहुत सारे ग्राहक हैं. और जब आपके बिजनेस के लिए बहुत सारे ग्राहक है तो आपका बिजनेस कभी बंद नही होगा. और वैसे भी आटा चक्की का बिजनेस कभी भी बंद न होने वाला बिजनेस है.

Flour Mill का बिजनेस शुरू करने के लाभ (Benefits)

आटा चक्की का बिजनेस शुरू करने के अनेक लाभ हैं, जैसे-

  • आटा चक्की बिजनेस को शुरू करना बेहद ही आसान है, और इससे लाभ कमाना भी आसान है.
  • आटा चक्की के प्रोडक्ट का उत्पादन काफी आसान है.
  • इस बिजनेस में आपके पास ग्राहक बहुत सारे हैं, अत: आप बहुत शानदार बिजनेस कर सकते है.
  • फ्लौर मील बिजनेस किसी भी जगह पर बहुत अच्छे से किया जाता सकता है.
  • इस बिजनेस के प्रोडक्ट को मार्केट में आसानी से बेच सकते है.
  • आटा चक्की बिजनेस का स्कॉप मार्केट में आज भी काफी ज्यादा  है.
  • यह बिजनेस कभी भी न होने वाला सदाबहार बिजनेस है.
  • आटा चक्की के बिजनेस में आपको काफी अच्छा-खासा प्रोफिट मिलता है.
  • आटा चक्की बिजनेस में आप बहुत सारे अलग-अलग प्रकार के प्रोडक्शन कर सकते हैं, मतलब आप गेंही, बाजरी, ज्वार, चना, दाल, मसाले आदि पीसकर उन्हे पैक कर सकते है और बेच सकते हैं.

आटा चक्की बिज़नेस के प्रकार (Types Of Aata Chakki Business)

आटा चक्की का बिजनेस दो प्रकार से किया जा सकता हैं, जिसमें एक बिजनेस कम पूंजी और कम जगह में शुरू किया जाता है, जबकि दूसरे बिजनेस में आपको ज्यादा पूंजी और ज्यादा जगह की जरूरत होती है.

#1. बेसिक मिल: बेसिक मिल के बिजनेस में ग्राहको को आटा या मसाला पिसाई की सुविधा दी जाती है. इस बिजनेस में ग्राहक स्वयं अनाज या मसाले लाते हैं और आपको पीसने के लिए देते है. यह बिजनेस कम निवेश में कम जगह पर आसानी से शुरू किया जा  सकता है.

#2. फ्लोर मिल: इस प्रकार के बिजनेस में व्यापक पूंजी और अधिक जगह का इस्तेमाल किया जाता हैं. इसमें आप अपनी खुद की कंपनी शुरू करके अपनी कंपनी के नाम पर प्रोडक्ट बेच सकते हैं. इस बिजनेस के लिए आपको किसानों से अनाज खरीदना होगा, और उसे पिसकर पैकिंग करना होगा.

अब इस पैकिंग आटे को आप मार्केट में काफी अच्छे मुनाफे पर बेच सकते है. इस बिजनेस में इन्वेस्टमेंट, ज्यादा जमीन और लाइसेंस की जरूरत पड़ती हैं, लेकिन मुनाफा भी काफी ज्यादा होता है.

आटा चक्की का बिजनेस कैसे शुरू करें

जैसा की मैने आपको बताया कि आटा मिल उद्योग में अलग-अलग प्रकार के आटे जैसे गैहूं, मक्का, ज्वार आदि को पीसा जाता हैं. और अलग-अलग तरह के आटे को पीसने के लिए आज के समय में अनेको एडवांस मशीने भी आती है.

तो चलिए अब हम यह जानने की कोशिश करते है कि आटा चक्की का सफल बिजनेस कैसे करें? Atta chakki ka Business शुरू करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को काफी अच्छे से फॉलो करें.

आटा चक्की बिजनेस शुरू करने के लिए बाजार का विश्लेषण करें

किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए बाजार का विश्लेषण करना बेहद जरूरी है, मतलब आपको जननना होगा कि बाजार में आपके बिजनेस से संबंधित क्या गतिविधियां चल रही है? आपको यह पता करना होगा कि आपका बिजनेस किस जगह पर आपको सबसे ज्यादा मुनाफा देगा.

मार्केट के विश्लेषण से पता चलता है कि हमारा बिजनेस कितना मुनाफा दे सकता है, और ज्यादा मुनाफे के लिए हमें क्या करना चाहिए? मार्केटिंग एनालिसिस मुख्य रूप से ग्राहकों की जरूरतों का पता लगाने के लिए किया जाता है. ताकि आप आने वाले प्रोडक्ट को ग्राहकों के अनुसार बेहतर बना सके.

आपको भी आटा चक्की बिजनेस को शुरू करने से पहले अपने ग्राहकों की जरूरत को पता लगाएं, और उनकी समस्या का समाधान खोज़ने के बाद पर्याप्त व्यवस्था के साथ बिजनेस शुरू करें.

मार्केट एनालिसिस में आप बेहतरनी क्वालिटी और किफायती मशीन की तलाश कर सकते है  और इसके अलावा आप अच्छी क्वालिटी के आटे के लिए अच्छी दुकान को खोज सकते है.

आटा चक्की बिजनेस के लिए सही जगह का चुनाव करें

जैसा की मैने आपको बताया कि आप यह बिजनेस दो प्रकार से कर सकते हैं. अगर आप बैसिक आटा चक्की का बिजनेस करते है तो इस बिजनेस के लिए 200 से 300 वर्ग फीट जमीन की जरूरत होगी. इसके अलावा चक्की मशीन लागत लगभघ 30 से 50 रूपयें तक होती है. इसके अलावा अन्य खर्चे 30 से 40 रूपयें का अन्य खर्च भी है. कुल मिलाकर इस बैसिक आटा चक्की बिजनेस में 2.60 लाख रूपयें का इन्वेस्टमेंट है.

जबकि फ्लोर मील बिजनेस में 2000 से 3000 वर्ग फीट जमीन पर कम से कम 10 से 15 लाख रूपयें का इन्वेस्टमेंट होगा. और मशीन के लिए 5 से 10 लाख रूपयें तक का खर्च होगा. इसके अलावा रजिस्ट्रैशन के लिए 10 से 15 हजार रूपयें और स्टाप के लिए कम से कम 30 से 60 हजार रूपयें. इस तरह फ्लोर मिल को शुरू करने के लिए 15.90 लाख से 26.75 लाख रूपयें का इन्वेस्टमेंट होगा.

आटा चक्की के लिए बिजनेस रिपोर्ट और प्लान बनाए

बिजनेस को शुरू करने के लिए बिजनेस ख़ाका यानी बिज़नेस प्लान की जरूरत होती है जिसमें व्यवसाय के अनुमानित खर्च के अलावा मशीनरी, तकनीक, बिजनेस गोल, उत्पादन क्षमता, संभावित कमाई आदि सभी के बारे में लिखा जाता है. यह बिजनेस प्लान काफी महत्वपूर्ण होता है जिससे आप बिजनेस लोन और सब्सिडी ले सकते है.

जो व्यवसाय छोटे स्तर पर शुरू किये जा रहे है, उनके लिए बिजनेस प्लान की जरूरत नही है. लेकिन अगर बना भी लेते है तो इसके फायदे काफी ज्यादा मिलते हैं. बिजनेस प्लान का उपयोग केवल बैंक या किसी वित्तीय संस्थान से लोन लेने के लिए नही बल्कि व्यापार में होने वाले अनुमानित खर्चे और अनुमानित कमाई का ब्यौरा भी देने के लिए भी जरूरी है.

आटा चक्की बिजनेस के लिए आवश्यक बजट निर्धारित करें

अगर आप बैसिक लेवल पर यह बिजनेस शुरू कर रहे है तो इसमें कुछ चीजों के लिए बजट की जरूरत होगी, जैसे मशीन, बिजली बिल, बड़े स्टोरेज बर्तन, तुला आदि.

लेकिन अगर आप बड़े स्तर पर फ्लोर मिल लगा रहे है तो उसमें जमीन की आवश्यक, एडवांस मशीने, हाई बिजली कनेक्शन, स्टाफ की जरूरत, पैकिंग मशीन, लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन, ट्रांसपोर्ट खर्च, कच्चा माल, गोदाम का इंफ्रास्ट्रक्चर, मार्केटिंग इत्यादि की जरूरत होती है. और इन सब के लिए काफी बड़े पैमाने पर बजट की आवश्यकता होती है.

आटा चक्की के बिजनेस में उपयोगी मशीने व उपकरण लगाए

आटा का बिजनेस मुख्य रूप से मशीनरी के आधार पर ही दो भागों में बांटा गया हैं.

छोटे स्तर पर आटा चक्की मशीनरी

आटा चक्की के बिजनेस में 200 से 300 वर्ग फीट की जगह होती है जहां पर केवल एक आटा चक्की की मशीन रखी जाती है. इस मशीन की कीमत 30 से 50 रूपयें के बीच होती है. इस बिजनेस में आपको ज्यादा स्टाफ की जरूरत नही होती है, या तक कि आप स्वयं अकेले भी आसानी से यह बिजनेस कर सकते हैं. इसके अलावा आपको डिजिटल वेट मशीन (शुरूआती कीमत 18000 रूपयें) की भी आवश्यकता होगी.

बड़े स्तर पर फ्लौर मील मशीनरी

बड़े स्तर पर आटा चक्की बिज़नेस शुरू करने के लिए अलग-अलग तरह की मशीने उपयोग में ली जाती है, और यह मशीने अलग-अलग तरह के आटे को पीसने के लिए अलग-अलग होती हैं. जैसे-

मशीनकीमत
फिल्टर मशीन (Heavy Duty Powder Filter Machine)शुरूआती कीमत 75,000 रूपयें
कमर्शियल आटा चक्की (Heavy Duty Flour Mill Machine)शुरूआती कीमत 65,000 रूपयें
डिजिटल वेट मशीन (Heavy Duty Weighing Scale)शुरूआती कीमत 18,000 रूपयें
पैकिंग मशीन (Wheat Flour Packing Machine)शुरूआती कीमत 3.50 लाख रूपयें

आटा चक्की के लिए बिजली फिटिंग और मशीन इंस्टॉलेशन करें

चूंकि अभी आटा चक्की बिजनेस में सबसे ज्यादा बिजली से चलने वाली मशीनों का उपयोग किया जाता है इसलिए सभी मशीनरी खरीदने के बाद आपको बिजली फिटिंग और मशीन इंस्टॉलेशन करवाना होगा. मैं आपको बता दूं कि आटा मशीन को चलाने के लिए काफी ज्यादा मात्रा में बिजली की आवश्यकता होती है.

इसलिए यह बिजनेस शुरू करने के लिए आपको काफी अच्छी तरीह से बिजली फिटिंग करवानी है ताकि आगे कोई भी नुकसान न हो सके. इसके अलावा आपको मशीन की इंस्टॉलेशन भी करानी होगी जो आपके कार्य स्थल के आधार पर फिट की जाती है. आप मशीन इंस्टॉलेशन उसी सप्लायर या विक्रेता से कराए जहां से आप मशीन खरीदी हैं. और ध्यान दे कि यह फिटिंग आप इंलेक्ट्रिशियन के सलाह के मुताबिक करे.

आटा चक्की बिजनेस के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन करवाए

अगर आप यह बिजनेस छोटे स्तर पर अपने ही इलाके में शुरू कर रहे है तो इसके लिए लाइसेंस की जरूरत नही होती है. हालांकि आप भविष्य के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन करवा सकते है. लेकिन अगर आप बड़े स्तर पर बिजनेस शुरू कर रहे है तो आपको निम्नलिखित लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की जरूरत होगी.

  • ROC (Registrar of Companies) – बिजनेस का पंजीकरण
  • GST Registration (जीएसटी पंजीकरण) – टेक्स के लिए रिजस्ट्रेशन
  • Trademark License (ट्रेड मार्क लाइसेंस)
  • Trade License (ट्रेड लाइसेंस)
  • FSSAI License (भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण पंजीकरण)
  • MSME Registration (सूक्ष्म, मध्यम एवं लघु उद्योग पंजीकरण)
  • IEC Code (आईईसी कोड)- यदि आप अन्य देश में निर्यात करना चाहते हैं तो आईईसी कोड जरूरी होता है.

आपको शुरूआती समय में उद्यमी पोर्टल MSME पर रजिस्टर करना होगा, जो आपके बिजनेस आकार यानी लघु, मध्यम या वृहद्ध बिजनेस के आधार पर पर बनता है. इसके अलावा आपको टैक्स के लिए GST No. लेने होंगे. इसके अलावा अन्य लाइसेंस आपका कारोबार ज्यादा बढ़ने पर ज्यादा जरूरी होंगे.

आटा चक्की व्यापार के लिए कच्चा माल मंगवाए

अगर आप बड़े स्तर पर आटा चक्की का बिजनेस कर रहे है तो आपको कच्चे माल की जरूरत होगी. मेरा कच्चे माल से मतलब अनाज से हैं, जैसे गेंहू, बाजरा, ज्वार, दाल, चना इत्यादि. फ्लोर मिल बिजनेस में आपको अनाज पीकर आटा बनाना पड़ता है और फिर उसे पैक करके मार्केट में बेचना पड़ता है. इसलिए माल खरीदना काफी ज्यादा जरूरी होता है.

अगर आप गेंहू को सस्ते में खरिदना चाहते हैं तो पंजाब, राजस्थान, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, बिहार, गुजरात, हरियाणा आदित राज्य से खरीद सकते है. आप किसी दूसरे राज्य में flour Mill लगा सकते है.

इसके अलावा अगर आप छोटे स्तर पर शुरू करते है तब भी आपको कुछ अनाज पीसकर अपनी दुकान पर रखने होंगे, जिसके लिए आपको कच्चा माल खरीदना होगा.

मशीने कहाँ से खरीदें (Where to Buy Machine In Hindi)

आप इन मशीनों को अपने लोकल मार्केट या ऑनलाइन से खरीद सकते हैं. ऑनलाइन खरीदने के लिए प्रमुख वेबसाइट निम्नलिखित हैं-

  • dir.indiamart.com
  • alibaba.com

मल्टीग्रेन आटा कैसे बनाए

मैने मल्टीग्रेन आटा के बारे में भी बताया था, जिसे आप अपने अनुसार एक्सप्रीमेंट से सही अनुपात में अनाज को मिक्स करके बना सकते हैं. मैने यहां पर मल्ट्रीग्रेन आटा बनाने की रेसिपी बतायी हैं-   

अनाजमात्रा
गेहूं 2.50 किलोग्राम
मक्का100 ग्राम
रागी100 ग्राम
बाजरा50 ग्राम
चना100 ग्राम
ज्वार50 ग्राम (वैकल्पिक)
तिल10 ग्राम (वैकल्पिक)
सोयाबीन50 ग्राम (वैकल्पिक)
जौ20 ग्राम (वैकल्पिक)
सेंधा नमक05 ग्राम (वैकल्पिक)

चक्की में क्या क्या पीस सकते हैं?

आप आटा चक्की के बिजनेस में अनेक तरीके के अनाज को पीस सकते हैं, जैसे गेंहू, मक्का, बाजरी, ज्वार, चावल, कणी, दाल, चना, रागी, बादाम, पिस्ता आदि. इसके अलावा अनेक तरह के मसाले भी पीस सकते हैं, जैसे मिर्च, हल्दी, धनिया इत्यादि.

आटा चक्की कैसे चलाए और आटा उत्पादन प्रक्रिया

अच्छी किस्म के अनाजों को चुनकर खरीदने के बाद आप निम्न प्रक्रिया से आटा तैयार कर सकते हैं.

  • फल की हार्वेस्टिंग के बाद गेंहू को फिल्टर मशीन से फिल्टर करते है जिससे कंकड़-पत्थर, खरपतवार तथा अन्य अनाज जैसे- जौ, जिसे गेंहू से अलग कर दिया जाता है.
  • अब इस फिल्टर गेंहू को आटा चक्की मशीन में डाला जाता हैं और मशीन क्षमता में भरकर मशीन चालू करते है. कुछ ही देर में गेंहू पीस जाएगा, और हमें आटा मिल जाएगा.
  • इस तैयार आटे को डिजिटल वेट मशीन से नापा जाता है.
  • अब इस आटे को पैंक किया जाता है और पेकिंग स्वयं की कंपनी के नाम की होती है.

आटे की पैकेजिंग कैसे करें

अगर आप एक बिजनेस कर रहे है तो आपको पैकेजिंग पर बहुत ध्यान देना चाहिए क्योंकि पैकेजिंग ब्रांड वैल्यू को दिखाता है. आप पैकेजिंग दो तरह से कर सकते हैं-

  • Polypropylene Printed प्लास्टिक बैग या बोरी
  • LDPE प्रिंटेड प्लास्टिक बैग या बोरी

आप पैकेजिंग के लिए प्लास्टिक बैग काफी आकर्षक ढंग से बनाए. प्रिटिंग के लिए आप स्वंय मशीन खरीद सकते है अन्यथा आप किसी प्रिंटर को काम दे सकते है.

Flour Mill Business मार्केटिंग (Marketing Strategies)

जब आप अपना खुद का बिजनेस शुरू करते है तो बिजनेस ग्रोथ में मार्केटिंग का एक बहुत बड़ा रोल होता है. आपके बिजनेस की जितनी अच्छी मार्केटिंग होगी उतनी ही अच्छी कमाई भी होगी. आज आप अनेक ब्रांड देख सकते है जिनका 70% बजट केवल मार्केटिंग पर खर्च होता है.

आज के समय में मार्केटिंग करने के लिए अनेक तरीके हैं जैसे- पोस्टर, बैनर, स्टीकर, फ्लैक्स, अखबार में पैम्पलेट देकर, टेलीविजन पर विज्ञापन देकर आदि. इसके अलावा आप ऑनलाइन तरीके से भी मार्केटिंग कर सकते हैं, जैसे- सोशल मीडिया, डिजिटल मार्केटिंग, इमेल मार्केटिंग, ऑनलाइन विज्ञापन, यूट्यूब प्रमोशन आदि.

इसके अलावा मार्केटिंग करने के लिए Marketing Strategies भी होती है, जो सफल बिजनेसमैन देते हैं. आप उन्हे भी फॉलो करके नये तरीके से मार्केटिंग कर सकते है. आप अपने कॉम्पीटीटर को खोजकर हटा सकते  हैं.

आटा चक्की बिजनेस के लिए लोन और सब्सिडी (Loan and Subsidy)

अनेक लोग यह भी जानना चाहते है कि आटा चक्की के लिए लोन कैसे मिलेगा? अगर आप मध्यम परिवार से है और आपकी सालान इनकम कुछ ज्यादा खास नही है तो आप सरकारी योजना से कम ब्याज दर पर बिजनेस लोन ले सकते हैं. जैसे-

  • प्रधानमंत्री रोजगार योजना (PMRY)
  • कौशल विकास योजना
  • प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (PMEGP)

नोट: हो सकता है कि आपके राज्य में कोई विशेष योजना चल रही हो, तो उसका अवश्य पता लगाएं.

आप अपनी कंपनी या फर्म के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं. लेकिन अगर आप सरकारी योजना के लिए पात्रता नही रखते है तो आप अनेक गैर-सरकारी बैंक या संस्थान से बिजनेस लोन ले सकते हैं.

  • भारतीय स्टेट बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • SIDBI इत्यादि.

अगर सब्सिडी की बात करें तो सरकार मशीनरी या आटा चक्की इकाई स्थापित करने के लिए सब्सिडी राशि का 25% देगी. सब्सिडी आवेदन के लिए आपके पास प्रोजेक्ट रिपोर्ट और बिजनेस प्लान होना आवश्यक है.

आटा चक्की के बिजनेस के लिए लागत (Investments)

अगर आप छोटे स्तर पर बिजनेस को शुरू करते है तो 60 हजार से 1.5 लाख रूपयें तक का खर्च करना होगा, जिसमें आप एक छोटी या मध्यम आटा चक्की मशीन ले सकते है और इसके अलावा रॉ मटेरियल, डिजिटल वेट मशीन ले सकते है.

लेकिन अगर आप बड़ स्तर पर यह बिजनेस करते है तो आपको बड़ी मशीनरी, तराजू, पैकिंग मशीन, पैकिंग मटेरियल, रॉ मटेरियल, स्टाफ आदि की जरूरत पड़ती है. जिसमें इन्वेस्टमेंट  लगभग 6 लाख रूपयें से शुरू होता हैं.

आटा चक्की बिजनेस का प्रोफिट (Profits)

देखा जाए तो आटा चक्की के बिजनेस में प्रोफिट मार्जिन बहुत ज्यादा नही होता है, लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नही है कि आप ज्यादा प्रोफिट नही कमा सकते है. अगर आप बड़े स्तर पर यह बिजनेस शुरू करते है तो आप अनेक तरह के प्रोडक्ट बनाकर मार्केट में बेच सकते है, जिससे आपको अच्छा प्रोफिट मार्जिन मिल जाता हैं.

लेकिन अगर आप छोटे स्तर पर बिजनेस करते है तो आटा पीसाई पर प्रोफिट मार्जिन ज्यादा नही होता है. क्योंकि खुदरा मार्केट में आटे की पीसाई की कीमत 1 रूपयें से 3.5 रूपयें प्रति किलोग्राम तक होती है और मल्टीग्रेन आटे के लिए 2 रूपयें से अधिकतम 5.50 रूपयें तक होती हैं.

यदि बड़े बिजनेस की बात करे तो आप हर महीने लगभग 30 से 80 हजार रूपयें का प्रोफिट कमा सकते है. और छोटे स्तर के बिजनेस के लिए प्रोफिट 10 से 25 हजार प्रतिमाह होता है.

आटा चक्की के बिजनेस शुरू करने के लिए ध्यान देने योग्य बातें

Flour Mill Business शुरू करने पर आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा-

  • बिजनेस के लिए अच्छी क्वालिटी का कच्चा माल खरीदे ताकि माल अधिक समय तक खराब न हो.
  • कच्चा माल के स्टोरेज में नमी को न आने दे क्योंकि इससे गेंहू पर फंफूद लग सकती है.
  • चुहों से अनाज की सुरक्षा करें, जिसके लिए आप गोदाम पर चुहे न आने की दवा रख सकते है.
  • यदि बिजनेस अच्छा नही चल रहा है तो आप अपना  पुराना माल डिस्काउंट देकर ही बेच दे.
  • चक्की में अनाज पीसने से पहले अच्छे से साफ-साफई अवश्य करें, क्योंकि अगर ग्राहक को खराब आटा पहुंचा तो आपको भारी नुकासन हो सकता है.
  • मशीन की लगातार साफ सफाई करें अन्यथा कीड़े मकोड़े निकल सकते है.

आटा चक्कीव्यवसाय के जोखिम (Business Risks)

आटा चक्की बिजनेस से जुड़ा एक जोख़िम भी है, जिससे आपका बिजनेस प्रभावित हो सकता है. क्या आपको पता है कि आटा समय बीतने के साथ साथ खराब होने लगता है, और कई बार तो किड़े भी आ जाते हैं. इसलिए आपको आटे का उत्पादन मार्केट में खपत के आधार पर ही करना चाहिए. अगर आप खपत के हिसाब से आटा तैयार करेंगे तो आपका आटा खराब नही हो पाएगा.

FAQs: Wheat Flour Mill Business In Hindi

अब तक हमने जाना कि आटा चक्की का बिज़नेस कैसे शुरू करें, तो चलिए अब हम Flour Mill Business से संबंधित कुछ आवश्यक FAQs पर चर्चा करते हैं.

आटा चक्की मशीन लगाने में कितना खर्च होता है?

200 से 300 वर्गफीट जमीन पर बिजनेस शुरू करने पर मशीनरी लागत लगभग 30 से 50 हजार रूपयें होती है. कुल खर्च देखे तो यह खर्च 2.50 लाख रूपयें तक पहुंचता है.

आटा चक्की का बिजनेस कैसे शुरू करें?

यह बिजनेस आप निम्न प्रकार से शुरू कर सकते हैं- सही लोकेशन का चुनाव एवं मार्केट विश्लेषण, उपयुक्त पैसों की व्यवस्था, लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन करना, आवश्यक मशीनरी एवं उपकरणों को खरीदना, बिजली व मशीन फिट कराना.

आटा चक्की मिल से मिलने वाला मुनाफा कितना होता है?

इस बिजनेस में आप छोटे स्तर पर 25 से 30 हजार रूपये का मुनाफा कमा सकते हैं.

इन्हें भी पढ़े

निष्कर्ष – आटा चक्की का बिजनेस कैसे करें हिंदी में

इस लेख में, मैने आपको बताया कि आटा चक्की का बिजनेस कैसे शुरू करें? इसके लिए मैने यहां पर A to Z पूरी जानकारी को आपके साथ शेयर किया है. आप इस आर्टिकल की मदद से आसानी से अपना Flour Mill Business को शुरू कर सकते है. मैने इस आर्टिकल में आपको आटा चक्की बिजनेस से अच्छा प्रोफिट कैसे कमाये, के बारे में भी बताया  है.

उमीद है कि यह आर्टिकल आपके लिए खुद का आटा चक्की बिजनेस शुरू करने में काफी ज्यादा फायदेमंद रहा होगा.

नमस्कार! दोस्तों मेरा नाम Ranjeet Singh है. प्रोफेशनल ब्लॉगर के साथ में एक Youtuber भी हूँ. मुझे डिजिटल मार्केटिंग और कंटेंट राइटिंग में गहरी नॉलेज है. इस पैसा.ब्लॉग पर पैसा कमाने के तरीके और बिज़नस आइडिया से सम्बंधित लेख साझा करता हूँ.

Leave a Comment